(speaking tips) बोलने का सही तरीका (चतुराई से बात करने का तरीका)

(speaking tips) नमस्कार दोस्तों अगर आपने बोलने की कला सीख ली है तो आप हर क्षेत्र में आगे होंगे। बोलने की कला अन्य कौशल से बेहतर है। यदि आपका संचार अच्छा नहीं है तो आप लंबे समय तक नहीं चल पाएंगे

 

समाज में बहुत से लोग ठीक से बात नहीं कर पाते हैं, भले ही उन्हें किसी चीज के बारे में पता न हो, वे 2 से 4 लोगों के बीच बोलने में हकलाना शुरू कर देते हैं, उन्हें समझ में नहीं आता कि शुरुआत में ऐसा सभी के साथ होता है लेकिन जैसे - जैसे ही आप लोगों से बात करना शुरू करते हैं, आपको समाज में बोलने का अनुभव मिलता है (speaking tips)

 

समाज में कैसे बोलें (चतुराई से बात करने का तरीका)

 

बोलने का सही तरीका (speaking tips)
बोलने का सही तरीका

समाज में बोलने के लिए स्वाभिमान और स्वावलंबन होना जरूरी है खुद पर इतना विश्वास होना चाहिए कि कोई भी आपकी बातों को बाधित न कर सके। आप अपने व्यक्तित्व के अनुसार अपने शब्दों को महत्व देंगे आपको यह जानने की जरूरत है कि कौन सा शब्द बोलना है और कैसे चतुराई से बोलना है

 

आप पूरे आत्मविश्वास के साथ ही समाज में बोलना शुरू कर सकते हैं। पूरा आत्मविश्वास तभी आता है जब आपको लगे कि आपके अंदर कुछ है। अपना चेहरा स्मार्ट बनाएं, व्यायाम करें, अच्छे कपड़े पहनें

 

हम आपके साथ समाज में बोलने के 5 बेहतरीन तरीके साझा कर रहे हैं, जिन्हें अपनाने के बाद आप जल्द ही किसी से बात करना जान जाएंगे।

 

समाज में बोलने के 5 सर्वोत्तम तरीके (speaking tips)

1. अपने शरीर पर ध्यान दें

2. विषय के बारे में पता करें

3. समाज में बोलते समय शरीर को हिलाना

4. चीजों को तोड़ो और बोलो

5. मीठा बोलो

 

"जिस तरह से आप समाज में बोलते हैं, आपको कुछ चीजें पता होनी चाहिए, तभी आप अपने संचार कौशल का निर्माण कर पाएंगे। समाज में बोलने के कुछ तरीके हैं जिन्हें आपको अवश्य जानना चाहिए।"

1. अपने शरीर पर ध्यान दें

समाज में अपनी पहचान बनाने के लिए अपने शरीर को फिट रखने के लिए व्यायाम करें। कितने भी प्रेरक वक्ता हों, वे अपने कपड़े बनाए रखते हैं। वे समय पर व्यायाम करते हैं और अपने दिमाग को संतुलित रखने के लिए उचित आहार लेते हैं।

 

किसी से बात करने के लिए अपने आत्मविश्वास के स्तर को बढ़ाने के लिए अपने शरीर को स्मार्ट बनाएं ऐसा नहीं है कि आप केवल महंगी चीजों का उपयोग करके आकर्षक दिख सकते हैं। जब कोई स्मार्ट व्यक्ति अपनी बात कहीं रखता है, तो उसका बहुत मूल्य होता है। हर किसी को ऐसे ही एक का इंतजार है बोलने वाला व्यक्ति

 

2. विषय के बारे में पता करें

यदि आप मंच पर कहीं बोलने जा रहे हैं तो पहले आपको जो बोलना है उसकी तैयारी करनी चाहिए और जिस भी विषय पर आप बोलने जा रहे हैं उस पर शोध करें फिर एक विषय तैयार करें ताकि आपको थोड़ी सी भी जानकारी न हो और समाज में बोलना शुरू कर दें। बिना तैयारी के समाज में लोग बोलते हैं जिनका काम मंच पर बोलना होता है

 

जब तक आपके पास बोलने का अनुभव न हो, आपको जितना हो सके तैयारी करनी चाहिए।जैसे ही आप मंच पर पैर रखते हैं, जैसे ही आप भीड़ देखते हैं, हम बहुत सी चीजें भूल जाते हैं जो जब भी आप कहीं भी बोलने जाते हैं तो सारा प्रभाव खराब कर देते हैं। भीड़ में इसलिए भीड़ को याद मत करो, बस अपने बनाए नोटों को याद करो और भूल जाओ कि सामने कोई है।

 

3. समाज में बोलते समय शरीर को हिलाना

हममें से बहुत से ऐसे हैं जो लगातार इतना बोलते हैं कि वे शरीर को कोई भाव नहीं देते। सावधान स्थिति में बोलना, यह एक नकारात्मक बिंदु है। चाहिए | अगर आप बॉडी लैंग्वेज से कोई एक्सप्रेशन नहीं देते हैं तो आपका स्पीच सुनने वाला बोरिंग हो सकता है

 

समाज में हर इंसान के बोलने का तरीका अलग होता है और उसकी वाणी का प्रभाव भी अलग होता है।

 

4. चीजों को तोड़ो और बोलो

कब बोलना है, कहां बोलना है, कितना बोलना है, इस पर ब्रेक लगाने की जरूरत है।बोलने की बजाय पैराग्राफ के बीच कुछ सेकेंड का ब्रेक लें और थोड़ा सस्पेंस के साथ बोलें।

 

5. मीठा बोलो

बोलने की कला सिर्फ एक दिन में नहीं सिखाई जा सकती। बोलने की कला बाकी कलाओं की तरह रोज सीखनी पड़ती है। चीजें खराब नहीं लगती हैं और अगर कोई कड़वे शब्द में भी अच्छी बात कहता है, तो वह छू जाता है दिल बहुत है। मीठा बोलना ही असली कला है। जिसने इस कला को सीखा है उसने जीवन में सब कुछ संग्रहीत किया है (speaking tips)

 

हमने कुछ कहा-

समाज में बोलने के 5 बेहतरीन तरीके | (speaking tips)hindimepro.com बताया गया है। आशा है कि आप लोग समाज में बोलने का तरीका समझ गए होंगे, अगर इस पोस्ट से संबंधित आपकी कोई राय है, तो बेझिझक कमेंट बॉक्स में बोलें।

एक टिप्पणी भेजें

1 टिप्पणियाँ

Thank you